राजस्थान के चुनावी रण का महा समर पूरा हो चुका है और अब राजस्थान की 25 सीटों पर कौन कौन जीत रहा है यह जानने की उत्सुकता चारों तरफ है। आपने टीवी चैनल्स पर सांकेतिक एग्जिट पोल देखे होंगे जो कांग्रेस को राजस्थान में छह से आठ सीटें मिलते हुए दिखा रहे थे लेकिन यह एग्जिट पोल चुनाव से पहले के हैं, जब राजस्थान का वोटर अपने निर्णय को मजबूत बना रहा था। इसलिए हम इन एग्जिट पोल को बेहद सटीक नहीं मान रहे हैं हालांकि इनमें जो बदलाव चुनाव की डेट्स के समय आए वह 30 से 40 फीसदी अलग है। इसलिए आज जो एग्जिट पोल हम आपको बता रहे हैं वह 11 से 15 अप्रैल के एग्जिट पोल से बिल्कुल अलग तो नहीं है लेकिन कुछ सीटें पुराने एग्जिट पोल से बिल्कुल अलग हो चुकी हैं। हमने आपको तकरीबन हर सीट का सियासी गणित पहले भी समझाया है लेकिन आज हम आपको बिल्कुल सरल तरीके से यह बताएंगे कि कौन कौन सी सीट किस-किस पार्टी को मिल रही है। सबसे पहले राजस्थान की सबसे हॉट सीट जोधपुर पर चुनाव तक वैभव गहलोत को मजबूत करने की कांग्रेस ने जमकर कोशिश की लेकिन फिर भी गजेंद्र सिंह यह सीट बीजेपी के खाते में डालते नजर आ रहे हैं। इसके बाद बेहद खास बाड़मेर सीट हमारे एग्जिट पोल में कैलाश चौधरी और कर्नल मानवेन्द्र सिंह की कड़ी टक्कर में कांग्रेस के खाते में जा सकती है। सीकर सीट की बात करें तो चुनाव के बाद पूरी स्थिति जबरदस्त ढंग से बदली। दोबारा यह सीट बीजेपी को मिलती नजर आ रही है। चुनाव के पहले कांग्रेस के सुभाष महरिया वर्तमान सांसद सुमेधानंद पर भारी लग रहे थे लेकिन तेजी से सूरत बदली और सुमेधानंद बीजेपी की जीत यहां से दर्ज कर सकते हैं। नागौर सीट की बात करें तो यह सीट हर किसी के लिए सस्पेंस बनी हुई है लेकिन हैरान करने वाला एग्जिट पोल यह है कि कांग्रेस की ज्योति मिर्धा और एनडीए के हनुमान बेनीवाल के बीच बेहद जबरदस्त जंग में हनुमान बेनीवाल की तरफ हमारा एग्जिट पोल झुक रहा है। बीजेपी के लिए एनडीए एलाइंस पर यह सीट आर एल पी सुप्रीमो हनुमान बेनीवाल जीत सकते हैं। अलवर सीट पर बीजेपी के बालक नाथ और कांग्रेस के भंवर जितेंद्र सिंह के बीच मुकाबला है लेकिन यहां कांग्रेस के भंवर जितेंद्र सिंह जीत दर्ज कर सकते हैं। भरतपुर की SC के लिए आरक्षित सीट पर रंजीता कोली बीजेपी से और कांग्रेस के अभिजीत कुमार जाटव के बीच मुकाबला है, लेकिन कम अनुभवी होने के बावजूद रंजीता कोली बीजेपी के लिए भरतपुर लोकसभा सीट जीत रही है। दौसा सीट की बात करें तो बीजेपी की जसकौर मीणा और कांग्रेस की सविता मीणा के बीच हुए मुकाबले में बीजेपी के लिए जसकौर मीणा यह सीट जीत रही है। जयपुर शहर के मौजूदा बीजेपी सांसद रामचरण बौहरा फिर से जीत दर्ज करते हुए नजर आ रहे हैं।कांग्रेस की ज्योति खंडेलवाल कांग्रेस के लिए जयपुर सीट नहीं जीत रही हैं। इसी तरह जयपुर ग्रामीण सीट पर कांग्रेस की सादुलपुर विधायक कृष्णा पूनिया और बीजेपी के मौजूदा सांसद और मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ के बीच कड़े मुकाबले में बीजेपी यह सीट जीतती हुई नजर आ रही है। चुरू सीट पर बीजेपी के मौजूदा सांसद राहुल कस्वां और कांग्रेस के रफीक मंडेलिया के बीच हुई टक्कर में फिर राहुल कस्वा यह सीट जीत सकते हैं। झुंझुनू लोकसभा सीट पर बीजेपी के नरेंद्र खीचड़ और कांग्रेस के श्रवण कुमार के बीच मुकाबले में नरेंद्र खीचड़ यह सीट बीजेपी के खाते में डालते हुए नजर आ रहे हैं। बीकानेर सीट पर भारी विरोध झेल चुके बीजेपी के मौजूदा सांसद और पूर्व आईएएस अफसर अर्जुन राम मेघवाल, कांग्रेस नेता और पूर्व आईपीएस मदन गोपाल मेघवाल को शिकस्त देते हुए नजर आ रहे हैं। गंगानगर सीट पर मौजूदा सांसद निहालचंद मेघवाल कांग्रेस के पूर्व सांसद और प्रत्याशी भरत राम को शिकस्त देते हुए दिख रहे हैं। झालावाड़ बारां सीट पर बीजेपी के दुष्यंत सिंह एक बार फिर जीत दर्ज कर सकते हैं। कांग्रेस के प्रमोद शर्मा को हार का सामना करना पड़ सकता है।कोटा सीट पर महिला उत्पीड़न के आरोप झेल चुके मौजूदा सांसद ओम बिरला कांग्रेस के रामनारायण मीणा को पटखनी देकर बीजेपी का कमल खिलाते दिख रहे हैं। राजसमंद सीट की बात करें तो राजसमंद सीट पर 40 वर्षों से कांग्रेस को मजबूती देने वाले देवकीनंदन गुर्जर काका बीजेपी की दिया कुमारी के सामने शिकस्त पा सकते हैं। बांसवाड़ा की ST सीट पर बीजेपी के कनक मल कटारा कांग्रेस के मजबूत नेता ताराचंद भगोरा को मात दे सकते हैं,हालांकि बेहद करीबी मामला है। उदयपुर एसटी सीट पर बीजेपी के अर्जुन लाल मीणा और कांग्रेस के रघुवीर मीणा के बीच में ठनी सियासी जंग में बीजेपी के अर्जुन लाल मीणा जीतते हुए नजर आ रहे हैं। जालौर सीट की बात करें तो बीजेपी के देव जी मानसिंह राम पटेल और कांग्रेस के रतन देवासी के बीच हुई लोकसभा चुनाव की टक्कर में देवजी पटेल जीत दर्ज कर रहे हैं। पाली सीट पर बीजेपी के पी पी चौधरी और कांग्रेस के बद्रीराम जाखड़ के बीच हुए मुकाबले में बीजेपी के पी पी चौधरी जीत दर्ज कर सकते हैं। अजमेर सीट पर कांग्रेस के रिजु झुनझुनवाला और बीजेपी के भागीरथ चौधरी के बीच बीजेपी के भागीरथ चौधरी जीत दर्ज कर सकते हैं। टोंक सवाई माधोपुर सीट पर बीजेपी के रघुवीर जौनपुरिया कांग्रेस के नमो नारायण मीणा से मात खा सकते हैं। चित्तौड़गढ़ को भी भाजपा अपना गढ़ बना सकती है। बीजेपी के सी पी जोशी और कांग्रेस के गोपाल सिंह इडवा के बीच सीपी जोशी जीत सकते हैं। बात करें भीलवाड़ा की तो यहां बीजेपी के सुभाष चंद्र बहेरिया भी कांग्रेस के रामपाल शर्मा को मात दे सकते हैं। करौली धौलपुर सीट पर बीजेपी के मनोज राजोरिया कांग्रेस के संजय कुमार जाटव को शिकस्त दे सकते हैं। तमाम सीटों की बात करें तो केवल 3 सीटें बाड़मेर, अलवर और टोंक सवाई माधोपुर ही कांग्रेस जीतती दिख रही है। बाकी 22 सीटें बीजेपी के खाते में जा रही है। सट्टा मार्केट भी 21 से 22 सीटों पर बीजेपी को दिखा रहा है। इन सभी सीटों में 3 सीटें कांग्रेस जीतती हुई नजर आ रही है। 2 सीटों पर कांग्रेस कड़ी टक्कर में है। इसलिए कांग्रेस ज्यादा से ज्यादा उम्मीद कर के भी 4 या 5 सीटों के बारे में सोच सकती है। फिलहाल 23 तारीख इसका फैसला करेगी लेकिन हमारा एग्जिट पोल सिर्फ तीन सीटें ही कांग्रेस को दे रहा है बाकी 22 सीटें बीजेपी के पक्ष में जाती हुई नजर आ रही है।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here