G.S.T. जो कि पिछले 3 से 4 सालों में अखबारों की सुर्खियों में रहा है। हर व्यापारी इस जीएसटी को समझने के लिए ट्यूशन मास्टर भी रख चुका है। हम बता दें कि आज इस जीएसटी की 34 वी बैठक होने जा रही है। जीएसटी काउंसिल की 32 वी बैठक में संगीत से जुड़ी किताबें और फ्रोजन सब्जियों को 0 फीसद टैक्स ब्रैकेट में रखा गया था ।जीएसटी में चार टैक्स स्लैब है 5% जीएसटी रेट स्लैब 8% जीएसटी रेट स्लैब 12% पर्सेंट जीएसटी रेट स्लैब और 28% जीएसटी रेट स्लैब ।


अब हम आपको यह बता रहे हैं कि किन चीजों को जीरो परसेंट टैक्स स्लैब में रखा गया है ।यानी कि जिन चीजों पर कोई भी जीएसटी टैक्स नहीं लगेगा। दूध दही पनीर को जीएसटी के दायरे से बाहर रखा गया है बटरमिल्क सब्जियां ,फल एंड फूड ग्रेंस ,गुड , दूध , अंडा , दही , लस्सी , पनीर ब्र ब्रांडेड बेसन प्रसाद काजल फुल भरी झाड़ू और नमक को जीएसटी के दायरे से बाहर रखा गया है। इसके अलावा फ्रेश मीट चिकन पर भी जीएसटी नहीं है। बच्चों के काम की चीजें और न्यूज़पेपर ,बच्चों के ड्राइंग और कलरिंग बुक्स और एजुकेशन सर्विसेज पर भी जीएसटी नहीं है।

वही मिट्टी की मूर्तियां खादी स्टोर से लिया गया कपड़ा, उन पर भी कोई टैक्स नहीं लगेगा। स्वास्थ्य संबंधी सेवाओं को भी जीएसटी टैक्स के दायरे से बाहर रखा गया है। वही सैनिटरी नैपकिन स्टोन मार्बल, राखी, साल के पत्ते ,लकड़ी से बनी मूर्तियां इन सभी चीजों पर 0% जीएसटी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here